swapandosh ke karan

स्वपनदोष के अश्ली कारण | Swapandosh ke karan

नींद में वीर्य पात हो जाने को ही स्वप्नदोष कहते है | जब स्वप्नदोष रोज होने लगे तो ये एक गंभीर समस्या है | युवाओ में स्वप्नदोष होना सव्भाविक है | लड़के और लड़कियों में सामान रूप से होता है | क्योकि युवा अवस्था में सेक्स हार्मोन्स बहुत एक्टिव होते है और योन अंगो में भी इंट्रेस्ट काफी बढ़ जाता है | इस कारण रात को सोते समय उन्हें सम्भोग के, गुप्त अंगो के सपने आते है और स्वप्नदोष हो जाता है |

अगर यह समान्य रूप से होता है तो कोई घबराने की बात नहीं है | यह एक सामान्य बात है | अगर ये निरन्तर हो तो ये जानना जरुरी हो जाता है की इसके कारण क्या है |

स्वप्नदोष के कारण निम्नलिखिते हो सकते है |

1. अश्लील कंटेंट – अश्लील कंटेंट आज की इस आधुनिक युग में काफी आम होगया है | कोई बेचा भी सिर्फ गूगल सर्च से बिना वस्त्र की फोटो देख सकता ये वीडियो देख सकता है | तो ये बहुत जरुरी हो जाता है की कम से कम 13 साल की उम्र तक बच्चों को इंटरनेट से दूर रखा जाये |
2. संगती – गलत संगति में बच्चा अश्लील कंटेंट के बारे में जनता है | इसलिए यह सुनश्चित करे की आपके बचे की संगति कैसे है |
3. गलत दिनचर्या – अगर आप सुबह की शुरुवात एक्ससरसिस या योग से करे, भोजन समय पर करे और समय पर पढ़े | तब स्वानदोष आपको नहीं होगा |
4.कब्ज होना या पेट गर्म होना
5. रात्रि को गर्म दूध पीकर सोना
6.रात्री में पेशाब को रोक कर रखना

अगर आप को स्वानदोष की समस्या है तो इसके समाधान की लिए यह क्लिक करे http://www.ashokclinic.in/swapandosh/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *