सेक्स की कमी से बढ़ते हैं पेशाब रोग, Lack of Sex causes Urine Problem

आम तौर पर लोग 40 या 50 वर्ष की उम्र पार होते ही यह सोचना शुरू कर देते हैं कि अब बच्चे बड़े हो गए हैं उन्हें इस उम्र में सेक्स नहीं करना चाहिए।  यूँ तो व्यक्ति की जैसे जैसे उम्र बढ़ती है उसकी पारिवारिक जिम्मेदारियां बढ़ती है तो उसी अनुरूप में उसकी शारीरिक क्षमताओं में भी कमी आने लगती है जिससे सेक्स क्षमता भी प्रभावित होती है। ऐसी स्थिति में उन व्यक्तियों के मन में सेक्स इच्छा तो जागृत होती है लेकिन वे उत्तेजना की कमी या किसी अन्य कारण से सेक्स से बचने की कोशिश करते रहते हैं, और तब सेक्स की कमी से बढ़ते हैं मूत्र रोग। सेक्स से डरना नहीं चाहिए क्योंकि जो ऐसा करते हैं उनको पेशाब से समबन्धित कई परेशानियों (Urine Problems) व् प्रोस्टेट ग्रंथि बहुत जल्दी बढ़ जाने की समस्या का सामना करना पड़ता है।

प्रोस्टेट ग्रंथि का पुरुषों की सेक्स क्षमता को क्रियाशील बनाए रखने में बहुत बड़ा योगदान होता है।  यह ग्रंथि मूत्र नली को चारों ओर से घेरे रहती है।  सेक्स कम करने या न करने से जब यह ग्रंथि बढ़कर विकसित हो जाती है तो मूत्र नली में काफी तकलीफ होती है और मूत्र भी काफी प्रयास के बाद रुक-रुक कर आता है जिससे मूत्र कोष भी पूरी तरह खाली नहीं हो पाता।  ऐसी स्थिति में मूत्र विसर्जन के लिए बार-बार जाना पड़ता है तथा रात में भी कई बार उठना पड़ता है।

इस समस्या से पुरुषों की सेक्स लाइफ भी चौपट हो जाती है।  इस शिकायत से छुटकारा दिलाने के लिए आज की आधुनिक चिकित्सा के डॉक्टर व्यक्ति को ऑपरेशन कराने की सलाह देते हैं जिसमें प्रोस्टेट ग्रंथि को जरुरत के अनुसार काट दिया जाता है लेकिन कुछ वर्षों के बाद इस ग्रंथि के बढ़ जाने की संभावना फिर भी बनी रहती है। इसके लिए सबसे बेहतर चिकित्सा आयुर्वेद में उपलब्ध है जो पूरी तरह सफल भी सिद्ध होती है। इस बारे में ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दी गयी फोटो लिंक (पेशाब की हर तकलीफ….) पर क्लिक करके आप विडियो देख सकते हैं.

Lack of sex and prostateसेक्स क्षमता में कमी, दुर्बलता एवं प्रोस्टेट व पेशाब संबंधी ऐसी समस्या है जिसका समाधान होना आवश्यक ही नहीं अति आवश्यक है क्योंकि इन परेशानियों का समाधान न होने पर व्यक्ति आत्मग्लानि से परिपूर्ण अपने आपको समय से पहले बूढ़ा मानते हुए उत्साहहीन व नीरस जीवन व्यतीत करता है जबकि आज बुढ़ापे की परिभाषा बदल गई है क्योंकि सही सलाह व उचित इलाज द्वारा 40 से 70 वर्ष के बीच की उम्र में व्यक्ति सेक्स का आनंद उठा सकता है।

Leave a comment

Type in
Details available only for Indian languages
Settings
Help
Indian language typing help
View Detailed Help